समाधान दिवस के अवसर पर डीएम व एसपी ने थानों का किया औचक निरीक्षण, थाना वजीरगंज व नवाबगंज में डीएम व एसपी ने सुनीं फरियादियों की शिकायतें

समाधान दिवस के अवसर पर डीएम व एसपी ने थानों का किया औचक निरीक्षण, थाना वजीरगंज व नवाबगंज में डीएम व एसपी ने सुनीं फरियादियों की शिकायतें

रिपोर्ट : प्रदीप पांडेय, अम्बालिका न्यूज ब्यूरो,

गोंडा (यूपी) : शनिवार को डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव व एसपी लल्लन सिह ने समाधान दिवस की हकीकत परखने के लिए थाना वजीरगंज व नवाबगंज में अचानक पहुंचकर मामलों की सुनवाई की तथा निस्तारण की हकीकत देखी। वजीरगंज में ग्राम कादीपुर में दबंगों द्वारा चकमार्ग पर दीवाल बना लेने की शिकायत का संज्ञान लेते हुए डीएम ने तत्काल दीवाल गिरवाने तथा दबंगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश थानाध्यक्ष को दिए है।

समाधान दिवस में डीएम ने सख्त चेतावनी दी कि सरकारी जमीनों जैसे चकमार्ग, तालाब, नवीन परती भूमि तथा खालिहान आदि पर अवैध कब्जे करने वालों से अवैध कब्जे खाली कराए जाएं तथा अवैध कब्जे खाली कराने के बाद पुनः कब्जा कर लेने वालों को कम से कम पांच-पांच लाख के मुचलकों से पाबन्द किया जाय तथा जेल भेजने की कार्यवाही की जाय। वजीरगंज में शिकायत प्राप्त हुई कि ग्राम कादीपुर में शोभाराम व अन्य लोगों द्वारा चकमार्ग पर दीवाल बनवा ली गई है। डीएम ने क्षेत्रीय लेखपाल तथा एसओ को निर्देश दिए कि वे तत्काल मयफोर्स मौके पर जाएं तथा दीवाल गिरवाकर उन्हें अवगत कराएं। थाना वजीरगंज में जिलाधिकारी कैप्टेन प्रभांशु श्रीवास्तव को शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता संतोषजनक नहीं मिली तथा समाधान दिवस रजिस्टर में फरियादियों के मोबाइल नम्बर दर्ज नहीं पाए गए।

इस पर एसपी ने फटकार लगाते हुए शत-प्रतिशत फरियादियों के मोबाइल नम्बर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। उन्होेने काहा कि समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतें जो भी लम्बित हैं उनका निस्तारण एक पक्ष के अन्दर हर हाल में हो जाना चाहिए। उन्होने निर्देश दिए कि भूमि विवाद के मामलों में दोनों पक्षों को थाने बुलाकर न्यापूर्ण समझौता कराने का प्रयास करें परन्तु यदि कोई भी व्यक्ति दबगंई दिखाए तो उससे सख्ती से निपटें। जिलाधिकारी ने राजस्व निरीक्षक व लेखपालों को सख्त चेतावनी दी कि निर्विवाद वरासत के एक भी ममले यदि उन्हें लम्बित मिल गए या उनके पास शिकायत आई तो निश्चित ही निलम्बन के लिए तैयार रहें।

थाना नवाबगंज मे डीएम लेखपालों से दिनचर्या रजिस्टर मांगा तो एक भी लेखपाल दिनचर्या रजिस्टर नहीं दिखा सका। डीएम ने एसडीएम को निर्देश दिए कि वे प्रत्येक दशा मेें यह सुनिश्चित कराएं। जिलाधिकारी ने निस्तारित कई शिकायतों के निस्तारण की हकीकत परखने के लिए रजिस्टर में दर्ज फरियादियों के मोबाइल नम्बर का फोन कर निस्तारण के बारे में पूछा तो ज्यादातर फरियादी निस्तारण से संतुष्ट मिले। डीमएम ने कहा कि पीडितों के साथ थानों में अच्छा व्यवहार करें तथा उनके आंसू पोछने का काम करें। पुलिस अधीक्षक लल्लन सिंह ने बताया कि समाधान के अवसर पर जनपद के सभी थानों को मिलाकर कुल 113 शिकायतें प्राप्त हुईं जिनमें से 18 शिकायतों का निस्तारण थाने में ही कर दिया गया, शेष शिकायतों के निस्तारण हेतु सम्बन्धित को निर्देश दिए गए हैं।

इस अवसर पर एसडीएम तरबगंज सौरभ भट्ट, सीओ तरबगंज कृष्णचन्द्र सिंह, थानाध्यक्ष वजीरगंज व नवाबगंज, राजस्व निरीक्षक तथा फरियादी मौजूद रहे।

Advt.

Advt.

Adct

Advt

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*