स्वास्थ्य टीम ने मांझी के विभिन्न गांवों में पहुंच कर विभिन्न राज्यों से आए परदेशियों का किया स्वास्थ्य परीक्षण

स्वास्थ्य टीम ने मांझी के विभिन्न गांवों में पहुंच कर विभिन्न राज्यों से आए परदेशियों का किया स्वास्थ्य परीक्षण

गांवों में अब भी कम हो रहा लॉकडाउन का अनुपालन

रिपोर्ट : वीरेश सिंह/के. के. सेंगर, अम्बालिका न्यूज ब्यूरो,
मांझी (सारण) : डीएम सुब्रत कुमार सेन के निर्देशानुसार सिविल सर्जन सारण के द्वारा मांझी प्रखंड क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु बनायी गई स्वास्थ्य टीम लगातार अपनी सुविधाएं तीन शिफ्टों में दे रही है। साथ ही बाहरी राज्यों अथवा विदेशों से आये हुए व्यक्तियों पर पैनी नजर रखी गई जा रही है। इस दौरान जैसे ही कहीं से कोई सूचना मिलती है। उस पर तत्परता पूर्वक स्वास्थ्य टीम उक्त स्थान के लिए प्रस्थान कर देती है।
इसी क्रम में बुधवार को जनप्रतिनिधियों के द्वारा दी गई सूचना व अनुरोध पर विभिन्न राज्यों से प्रखंड क्षेत्र की गावों आए हुए लोगों का चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मचारीयों की टीम द्वारा कोविड 19 से संबंधित स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।


इस संबंध में मांझी पीएचसी के डॉ. जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव व डॉ. विनोद कुमार सिंह द्वारा देर रात्रि तक मटियार, जई छपरा, खजुहटी, गोड़ा, धुसहां, महम्मदपुर, भाठा, सरयुपार आदि गांवों में गैर राज्यों से आए लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए गोबरहीं टोला में पहुंचे। गोबरही टोला गांव के स्वर्गीय कमला गिरि का पुत्र विनय गिरि एक सप्ताह पहले गुजरात से आया हुआ था। जैसे ही ग्रामीणों द्वारा दूरभाष से स्वास्थ्य विभाग को दिया गया। विभागीय टीम ने पहुंच कर उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया। उसके सिम्टम को देखकर डॉक्टरों द्वारा उसको 14 दिनों तक अपने घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गई।


डॉक्टरों द्वारा बताया गया कि त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों के मोबाइल नंबरों पर सूचना देकर किए जा रहे अनुरोध पर विभिन्न राज्यों से इन गावों आए हुए सभी लोगों का स्वास्थ्य टीम के साथ पहुंच कर चिकित्सकों द्वारा कोविड 19 से संबंधित स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
इस मौके पर धर्मनाथ प्रसाद, सेवानिवृत्त शिक्षक देवलाल प्रसाद, प्रदीप प्रसाद, पत्रकार वीरेश सिंह, शेषनाथ गिरि, केदार प्रसाद आदि मौजूद थे।

गांवों में हो रहा लॉकडाउन का उल्लंघन, सूचना देकर मोबाइल स्विच ऑफ कर ली जा रही : स्वास्थ्य टीम

स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मांझी प्रखंड के कुछ गांवों का भ्रमण के दौरान पाया गया है कि केन्द्र व राज्य सरकार के द्वारा लागू लॉकडाउन सिस्टम का सही ढ़ंग से पालन नहीं हो पा रहा है। गांवों के अन्दर दुकानों सहित चौक-चौराहों पर लोग पूर्व की भांति ही एकत्रित हो रहे हैं। जो सही नहीं है। इस पर भी विशेष ध्यान देने की जरुरत है। तभी हम लोग इस कोरोना वायरस के विस्तार को रोक पायेगें।
वहीं कुछ पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा इसमें मदद नहीं की जा रही है। इस दौरान अफवाह भी फैलायी जा रही है। उन लोगों द्वारा मदद हेतु सूचना देने के बाद मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया जा रहा है।

Advt.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*