रोहतक : “समकालीन सामरिक वातावरण: चुनौतियां एवं संभावनाएं” विषय पर हुआ विशेष व्याख्यान

रोहतक : समकालीन सामरिक वातावरण : “चुनौतियां एवं संभावनाएं” विषय पर हुआ विशेष व्याख्यान

चीन हिन्द महासागार में निरंतर उपस्थिति के जरिए भारत की सुरक्षा के लिए चुनौतियां खड़ी कर रहा है : प्रो. कमल किंगर

रिपोर्ट : हर्षित सैनी, अम्बालिका न्यूज,
रोहतक, 12 फरवरी। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के रक्षा एवं सामाजिक अध्ययन विभाग में आज ‘समकालीन सामरिक वातावरण: चुनौतियां एवं संभावनाएं’ विषय पर विशेष व्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

पंजाबी विश्वविद्यालय, पटियाला के प्रो. कमल किंगर ने भारत को उभरती हुई वैश्विक शक्ति करार देते हुए कहा कि चीन हिन्द महासागार में निरंतर उपस्थिति के जरिए भारत की सुरक्षा के लिए चुनौतियां खड़ी कर रहा है। प्रो. कमल किंगर ने भारत की सुरक्षा संबंधित नीतियों, सुरक्षा कार्यक्रमों तथा संपूर्ण सुरक्षा परिदृश्य की जानकारी दी। उन्होंने वैश्विक सुरक्षा परिदृश्य बारे भी प्रकाश डाला व विद्यार्थियों के प्रश्नों के उत्तर भी दिए।
कार्यक्रम के प्रारंभ विभागाध्यक्षा तथा सामाजिक विज्ञान संकाय की अधिष्ठता प्रो. नीना सिंह ने मुख्य वक्ता का स्वागत किया। प्रो. नीना सिंह ने कहा कि इस व्याख्यान के आयोजन का उद्देश्य विद्यार्थियों को विषय की नवीनतम रूझानों से वाकिफ कराना है।
सहायक प्रोफेसर डा. प्रताप सिंह ने विषय की पृष्ठभूमि प्रस्तुत की। आभार प्रदर्शन राकेश कुमार दहिया तथा परमजीत सिंह ने किया। विभाग के शोधार्थियों व विद्यार्थियों ने उत्साहपूवर्क कार्यक्रम में भाग लिया।

Advt.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*