सारण : मांझी के आम नागरिकों व राहगीरों ने जिला प्रशासन को अपना दर्द कुछ इस तरह से बयां किया है!!

सारण : मांझी के आम नागरिकों व राहगीरों ने जिला प्रशासन को अपना दर्द कुछ इस तरह से बयां किया है!!

रिपोर्ट : वीरेश सिंह/मनोज कुमार सिंह, अम्बालिका न्यूज,

छपरा/मांझी (सारण) : पिछले दो दिनों से मांझी से रिविलगंज तक ओवरलोडेड ट्रकें सैकड़ों की संख्या में खड़ी है। जिससे आवागमन पर इसका विपरीत असर पड़ रहा है। ट्रक संचालक अलग से परेशान हैं। पता चला है कि यूपी के अधिकारी ओवरलोड वाहनों की जांच कर रहे हैं। ट्रक संचालकों का कहना है कि बिहार में बहार है।


आखिर यहां के लोगों ने कौन-सा गुनाह किया है? जिसकी सजा जाम के रूप में लोग भुगत रहे हैं। आप सभी पदाधिकारी ओवर लोड रोकने की बजाय ओवर लोड को प्रोत्साहित कर रहे हैं। स्थानीय जनता की नजर आपकी तमाम हरकतों पर है। जिला प्रशासन सभी वाहनों के ओवर लोड पर प्रतिबंध लगाए। अगर ऐसा नहीं किया गया तो मांझी के लोग ओवर लोड पर खुद प्रतिबंध लगा देंगे। अभी सैकड़ों ओवरलोडेड ट्रकें कैसे मांझी तक पहुंची? इसके लिए जिम्मेवार कौन है? दोषी सत्ताधारी नेता भी हैं।
आपकी नाक के नीचे यह अनियमितता हो रहा है और आप सब चुप हैं। इसका मतलब यह सब आपके इशारे पर हो रहा है। यह खेल सीमा पार कर रहा है। आम जनता को कर्फ्यू लगाने पर मजबूर मत करें। जनता त्राहिमाम कर रही है। जयप्रभा सेतु अंतिम सांस ले रहा है और जिला प्रशासन चैन की बांसुरी बजा रहा है। यह खेल बन्द करें।


जी हां कुछ उपरोक्त बयानों से क्षेत्रीय जनता ने अपना दर्द बयां किया है। अब भी शायद उम्मीद जताई जा रही है कि प्रशासनिक अधिकारियों का ध्यान इस समस्या की तरफ जाए, और परेशानी कुछ कम हो सके।

 

शुभकामना संदेश का विज्ञापन

Advt

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*