पहले प्रयास में ही रसूलपुर की मंजूला ने उप निरीक्षक पद पर चयनित होकर बढ़ाया क्षेत्र का मान, रिपोर्ट : वीरेंद्र कुमार यादव/प्रो. अजीत कुमार सिंह, अम्बालिका न्यूज,

पहले प्रयास में ही रसूलपुर की मंजूला ने उप निरीक्षक पद पर चयनित होकर बढ़ाया क्षेत्र का मान

रिपोर्ट : वीरेंद्र कुमार यादव/प्रो. अजीत कुमार सिंह, अम्बालिका न्यूज,

रसूलपुर/एकमा (सारण) : एकमा प्रखंड के रसूलपुर गांव की बेटी मंजूला ने अपने प्रथम प्रयास में ही दारोगा बन कर क्षेत्र का नाम रौशन किया है।प्रसिद्ध कथावाचक व शिक्षक स्व. सूर्यनारायण मिश्रा उर्फ बच्चा बाबा की पौत्री मंजूला इस कामयाबी का श्रेय अपने पिता पोस्ट मास्टर अरूण कुमार  मिश्रा व माता राजरानी देवी  तथा कोचिंग संचालक संतोष कुमार पाण्डेय को देती हैं।

मंजूला के इकलौते भाई व रिकार्डिस्ट पिंटू मिश्रा कहते हैं सबसे छोटी बहन मंजूला के इस कामयाबी पर हमारा परिवार ही नहीं बल्कि पूरा गांव गौरवान्वित महसूस कर रहा है। मैट्रिक से लेकर स्नातक तक प्रथम श्रेणी से पास होने वाली मंजूला मैट्रिक आर एन हाई स्कूल योगिया,इंटर एसटीडी कॉलेज घुरापाली, और गणित में स्नातक रामजयपाल कॉलेज छपरा से की हैं।

Advt.

शुरू से ही मेधावी रहीं मंजूला के दादा एक उच्च कोटि के कथा वाचक और शिक्षक थे।तीन बहनों में सबसे छोटी मंजूला कहती है किआत्म बिश्बवास  हो तो मंजिल मिल ही जायेगी।उसे आशा ही नहीं बल्कि पुरा विश्वास था कि माता-पिता, गुरूजन और उसकी मेहनत से उसे एक न एक दिन जरूर सफलता मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*