डिजिटल वर्ल्ड पर सारण की होगी धमाकेदार इंट्री, राष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर दिलायेगी पहचान फिल्म “एक सुखद यात्रा सारण” : डॉ. अनिल कुमार

डिजिटल वर्ल्ड पर सारण की होगी धमाकेदार इंट्री, राष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर दिलायेगी पहचान फिल्म “एक सुखद यात्रा सारण” : डॉ. अनिल कुमार

रिपोर्ट : वीरेश सिंह, अम्बालिका न्यूज ब्यूरो,

छपरा (सारण) : पर्यटन की दृष्टिकोण से अपार संभावनाओं को संजोये सारण जिले को राष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने के सामाजिक प्रयास शुरू हो गया है । इस प्रयास के तहत जिले के प्रबुद्धजनों की टीम के सहयोग से “एक सुखद यात्रा सारण ” डाक्यमेंट्री फिल्म तैयार की गयी है। जिसे छपरा शहर के मौलाना मजहरूल हक एकता भवन में 5 दिसम्बर को सारण के पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय तथा आइएएस अधिकारी एसडीओ लोकेश मिश्रा, विधायक जितेन्द्र कुमार राय संयुक्त रूप से करेंगे । फिल्म को रिलीज करने की तैयारी पूरी कर ली गयी है । इस फिल्म के रिलीज होने के साथ “डिजिटल वर्ल्ड” पर सारण की धमाकेदार इंट्री होगी ।

लोक गायक: रामेश्वर गोप

इस फिल्म के निर्माण में अग्रणी भूमिका निभाने वाले शहर के प्रसिद्ध चिकित्सक डा अनिल कुमार ने बताया कि फिल्म के रिलीज समारोह में उन सभी कलाकारों और विशिष्टजनों को सम्मानित किया जायेगा, जिन्होंने इस फिल्म में अपना योगदान दिया है । इस फिल्म के उद्देश्य और महत्व के बारे में चर्चा करते हुए डा कुमार ने बताया कि सबसे जरूरी बात यह है कि आज हमें अपनी विरासत को संजोने की जरूरत है । पूरी दुनिया का डिजिटलीकरण हो रहा है और सरकार भी डिजिटल इंडिया बनाने की मुहिम में जुटी है, परंतु हमारे क्षेत्र की धार्मिक, पौराणिक, ऐतिहासिक स्थल हैं, लोक संस्कृति व परंपरा है, उसका भी डिजिटलीकरण होना चाहिए और इसी सोच व परिकल्पना को साकार करने के लिए इस फिल्म का निर्माण किया गया है । यह फिल्म इस जिले को डिजिटल वर्ल्ड पर विशिष्ट पहचान दिलायेगी। नयी पीढ़ी को अपने गौरवशाली अतीत को जानने, समझने का अवसर मिलेगा । अप्रवासी सारणवासी गर्व के साथ देश- विदेश में अपने जिले की धार्मिक, ऐतिहासिक, पौराणिक महत्व को बेहतर ढंग से लोगों को दिखा सकेंगे, बता सकेंगे । विलुप्त हो रही लोक संस्कृति, लोक कला, प्राचीन स्थलों के बारे में जान सकेंगे । उन्होंने कहा कि सारण के गौरवशाली धरोहर को संजोने के प्रयास है । ” एक सुखद यात्रा सारण” डाक्युमेंट्री फिल्म का इसका मुख्य उद्देश्य पर्यटन को बढावा देना है। फिल्म के नायक राव रणविजय सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया जिन्होंने अथक प्रयासों के बाद तैयार किया है । उन्होंने बताया कि यू ट्यूब चैनल के माध्यम से सारण की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, गौरवशाली, धार्मिक धरोहरों डाक्यूमेंट्री फिल्म के माध्यम से डिजिटल वर्ल्ड पर संजोने का प्रयास किया जा रहा है ।चिकित्सक डॉ कुमार ने बताया कि प्रसिद्ध सीरियल सावधान इंडिया के जाने-माने अभिनेता राव रणविजय के निर्देशन और सुजीत अस्थाना के सह निर्देशन में बनी इस फिल्म में सोनपुर के हरिहर नाथ मंदिर से लेकर पश्चिम में बाबा महेन्द्र नाथ, मढ़ौरा स्थित शिल्हौरी के शिलानाथ मंदिर, छपरा के बाबा धनी धर्मनाथ मंदिर, छपरा शहर के कुंवारे पीर बाबा का मजार आदि धार्मिक स्थलों को जहां प्रमुखता के साथ लिया गया है। रिविलगंज की ऐतिहासिक धरती के गोदना- सेमरिया के गौतम ऋषि, डोरीगंज के सिंगही गांव स्थित श्रृंगी ऋषि, शहर के दधीचि ऋषि की भूमि को भी धार्मिक रूप से फिल्माया गया है । संपूर्ण क्रांति के प्रणेता लोकनायक जयप्रकाश नारायण पैतृक गांव सिताब दियारा के लाला टोला, प्रख्यात विद्वान व यायावर राहुल सांकृत्यायन की कर्मस्थली परसागढ़ मठ से लेकर सांस्कृतिक विरासत के धरोहर महेन्द्र मिसिर और भोजपुरी के लोक कलाकार भिखारी ठाकुर, बटोहिया के रचनाकार रघुवीर नारायण सिंह की रचनाओं और जीवन – वृत को भी एक घंटे की इस फिल्म में समेटने का काम फिल्मकार की युवा टीम ने किया है । सारण की एक सुखद यात्रा फिल्म में मनोरंजन के लिए गीत संगीत का भी दर्शक भरपूर आनंद ले सकेंगे। इसके लिए जिले के लोक गायक रामेश्वर गोप की टीम ने एक दर्जन से ऊपर गीतों की झलकी पेश की है । रघुवीर नारायण सिंह की बटोहिया, महेन्द्र मिसिर की पूर्वी, भिखारी ठाकुर की बिदेसिया गीतों के साथ सारण की धरती से जुड़े पारम्परिक होली, चैती, हूड़का, पूर्वी, निर्गुण आदि गीतों को संगीत और नृत्य से से पूरी तरह सजाया गया है ।

(Edited by :K.K.Singh Sengar)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*